Sakshatkar.com - Filmipr.com - Sakshatkar.org

अटलजी की पत्रकारिता के अनसुने किस्सों से रूबरू कराएगी ये किताब...

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।
लेखक डॉ. सौरभ मालवीय द्वारा लिखित पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के पत्रकारीय जीवन पर आधारित किताब का मंगलवार को विमोचन किया गया। किताब का नाम है 'राष्ट्रवादी पत्रकारिता के शिखर पुरुष अटल बिहारी बाजपेयी'। इस किताब का विमोचन पत्रकार आलोक मेहता, माखनलाल प्रत्रकारिता विश्वविद्यालय के कुलपति जगदीश उपासने, कुलाधिपति लाजपत आहूजा, कुलसचिव प्रो. संजय द्विवेदी ने भोपाल में माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विवि के सत्रारंभ-2018 के मौके पर आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान किया।
बता दें कि डॉ. सौरभ ने इस किताब में पत्रकारीय जीवन में अटलजी से जुड़े कई अनसुने किस्सों का जिक्र किया है। किताब में अटलजी के व्यक्तिव से जुड़ी कई कहानियां हैं। लेखक ने 23 जनवरी, 1982 में महाराष्ट्र की पुणे नगरपालिका द्वारा आयोजित गौरव सम्मान समारोह का भी जिक्र किया है, जिसमें उन्हें सम्मानित किया गया था। समारोह के दौरान अटलजी ने कहा था कि उनके लिए राजनीति सेवा का एक साधन है। बदलाव का माध्यम है। सत्ता सत्ता के लिए नहीं है। विरोध विरोध के लिए नहीं है। लेखक ने अटलजी से जुड़े ऐसे ही कई किस्सों का किताब में जिक्र किया है।
गौरतल है कि किताब का प्रकाशन वाणी प्रकाशन ने किया है। 200 पेज की इस किताब की कीमत 595 रुपए है।
डॉ. सौरभ मालवीय ने मीडिया जगत को बड़ी बारीकी से देखा और समझा है। अटल बिहारी वाजपेयी जिनकी न केवल राजनीति बल्कि साहित्य और पत्रकारिता के क्षेत्र में गहरी पैठ है। डॉ. मालवीय ने किताब में ऐसे ही पत्रकार अटलजी से परिचय कराया है। अटलजी के संवेदनशील पत्रकार मन को डॉ. मालवीय की किताब से बखूबी समझा जा सकता है। किताब में बताया गया है कि खबरों को देखने और लिखने का अटलजी का दृष्टिकोण क्या था? अटलजी के लिए किसी खबर के क्या मायने थे? 
Sabhar- Samachar4media.com

साक्षात्कार डाट काम

साक्षात्कार डाट काम सूचित करता है। अब उन ही खबरों को अपडेट किया जाएगा , जिस इवेंट , प्रेस कांफ्रेंस में खुद शरीक हो रहा हू । इसका संपादन एडिटर इन चीफ सुशील गंगवार के माध्यम से किया जाता है। अगर कोई ये कहकर इवेंट , प्रेस कॉन्फ्रेंस अटेंड करता है कि मै साक्षात्कार डाट कॉम या इससे जुडी कोई और न्यूज़ वेबसाइट के लिए काम करता हू और पैसे का लेनदेन करता है, तो इसकी जिम्मेदारी खुद की होगी। उसकी कोई न्यूज़ साक्षात्कार डाट कॉम पर नहीं लगायी जायेगी। ..
Sushil Gangwar