Sakshatkar.com - Filmipr.com - Worldnewspr.com - Sakshatkar.org

मुख्तार अंसारी दहशत के मारे बैरक से बाहर नहीं निकल रहे!

Manoj Kumar Mishra : खबर आ रही है कि बाँदा जेल में बंद कभी दहशत का पर्याय रहे मुख्तार अंसारी माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी के बागपत जेल में धराशायी होने के बाद मारे दहशत के अपने बैरक से बाहर ही नही निकल रहे ..जेल में उपलब्ध कराया जा रहा खाने पीने का सामान भी उन्हें अब संदिग्ध नज़र आ रहा है जिसकी वजह से भूख प्यास भी मर गयी है। वर्ष 2003-07में मुलायम सिंह सरकार को समर्थन देने वाले मुख्तार अंसारी पर कथित रूप से 2005 में मऊ में हुए भीषण दंगो को खुली जीप में घूम घूम कर भड़काने के भी आरोप लगे थे।
Navneet Mishra : ”जो बनते थे शेर सिकंदर – घुस गए अंदर, घुस गए अंदर……. ये वही हैं जो जिनके खौफ से लोग घरों में दुबक जाते थे, ये आज खुद खौफ में दुबके हुए हैं।” मुन्ना की मौत के बाद खौफ के साये में जी रहे मुख्तार पर शलभमणि त्रिपाठी का मजेदार तंज।
सौजन्य : फेसबुक
Bhadas4media.com

No comments:

Post a Comment