आशुतोष के जीते जी ही उनकी पुरानी पहचान मिट गयी



हमारी यादाश्त कितनी तेजी से खत्म होती जा रही है. पुष्कर ने अपनी वॉल पर एस पी सिंह समारोह की पुरानी तस्वीर लगायी और आशुतोष का जिक्र किया तो हैरानी से एक ने टिप्पणी की- ये तो आम आदमी पार्टी में हैं ?
आशुतोष की आम आदमी पार्टी से जुडने की पहचान अपेक्षाकृत नई है. इसके पीछे बतौर मीडियाकर्मी लंबा अनुभव है. हमारी उंगलियों पर दर्जनों स्टोरी और घटनाएं गिनाने के लिए है.
लेकिन इस टिप्पणीकार के अलावा ऐसे सैकडों ऐसे लोग होंगे जिनके लिए आशुतोष मतलब आम आदमी पार्टी.. नमस्कार मैं आशुतोष और आप देख रहे हैं हमारा कार्यक्रम डंके की चोट पर या फिर कैमरामैन एक्स के साथ मैं आशुतोष, कश्मीर आजतक.
हम जिस दौर में जी रहे हैं, वहां जीते जी जिंदगी का बडा हिस्सा हमसे कट जाता है. ऐसे जैसे पेट्रोल पम्प में हर शख्स के लिए मीटर जीरो पर आकर शुरु होता है. अतीत की लीगेसी साथ नहीं होती. पहले पुरानी पहचान और काम का इतनी तेजी से भुला दिया जाना आसान नहीं हुआ करता था.

Sabhar-Mediakhabar.com
आशुतोष के जीते जी ही उनकी पुरानी पहचान मिट गयी आशुतोष के जीते जी ही उनकी पुरानी पहचान मिट गयी Reviewed by Sushil Gangwar on July 15, 2017 Rating: 5

No comments

Post AD

home ads