Sakshatkar.com

Sakshatkar.com - Filmipr.com - Worldnewspr.com - Sakshatkar.org for online News Platform .

ये तो आम बात है

ये तो आम बात है , हम लोग किसी  भी बात को कितना हल्का ले लेते है कभी कभी।  ये हल्कापन कभी कभी  जिंदगी के लिए नासूर बन जाता है जो जिंदगी भर साथ नहीं छोड़ता है।  ये कोई आम  बात नहीं होती है।  कुछ लोगो के लिए हो सकती है।   

भारत में बढ़ते लॉ और उसका दुरूपयोग  खुले आम देखता और सुना जा  सकता है।  लॉ सबके लिए बराबर है।  फिर कुछ जगह पर कानून का भी उपहास      बनाया  जाता है. टीवी पेपर पर खुले आम इस विषय पर लंबे लंबे भाषण  और जिरहा होती  रहती है।