Sakshatkar.com - Filmipr.com - Sakshatkar.org

दूसरी का पहली हो जाना

पहली किताब पर काम चल रहा है। इसी में एक दूसरी किताब आ गयी। अब दूसरी किताब पहले आ सकती है और पहली बाद में आ सकती है। इसे कहते हैं पहली का दूसरी हो जाना और दूसरी का पहली हो जाना।
Sabhar- FB --

साक्षात्कार डाट काम

साक्षात्कार डाट काम सूचित करता है। अब उन ही खबरों को अपडेट किया जाएगा , जिस इवेंट , प्रेस कांफ्रेंस में खुद शरीक हो रहा हू । इसका संपादन एडिटर इन चीफ सुशील गंगवार के माध्यम से किया जाता है। अगर कोई ये कहकर इवेंट , प्रेस कॉन्फ्रेंस अटेंड करता है कि मै साक्षात्कार डाट कॉम या इससे जुडी कोई और न्यूज़ वेबसाइट के लिए काम करता हू और पैसे का लेनदेन करता है, तो इसकी जिम्मेदारी खुद की होगी। उसकी कोई न्यूज़ साक्षात्कार डाट कॉम पर नहीं लगायी जायेगी। ..
Sushil Gangwar