Top Ad 728x90

  • Sakshatkar.com - Sakshatkar.org तक अगर Film TV or Media की कोई सूचना, जानकारी पहुंचाना चाहते हैं तो आपका स्वागत है. आप मेल के जरिए कोई जानकारी भेजने के लिए mediapr75@gmail.com का सहारा ले सकते हैं.

Thursday, 7 April 2016

यूपी में जंगलराज : मंत्री के गुर्गों ने पत्रकार को दौड़ाकर पीटा

वेस्ट यूपी के बागपत जिले के बड़ौत इलाके से खबर है कि मंत्री के गुर्गों ने एक पत्रकार को दौड़ा दौड़ा कर पीटा. मीडियाकर्मी का आरोप है कि एक खबर को प्रकाशित ना करने को लेकर गन्ना बीज विकास निगम के चेयरमैन के गुर्गो ने उस पर हमला करवाया है. पत्रकारों की समस्याओं के लिए हेल्पलाइन जारी करने वाले सूबे के मुखिया अखिलेश यादव के जंगलराज की असल तस्वीर यह है कि इनके मंत्री अपनी कार से उतर कर पत्रकारों को पीट रहे हैं.
बड़ौत शहर की फूंस वाली मस्जिद के नजदीक पांच युवकों ने जबरन कार रुकवाकर एक मीडियाकर्मी की पिटाई कर दी. पीड़ित ने आरोप लगाया कि खबर छपने से क्षुब्ध होकर गन्ना बीज विकास निगम के चेयरमैन (राज्यमंत्री) व छपरौली विधानसभा क्षेत्र के प्रत्याशी हाजी तराबुद्दीन के गुर्गो ने उन पर हमला किया. पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने पांच लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया है.  अशरफाबाद थल गांव निवासी उवैश नवाब एक समाचार पत्र के पत्रकार हैं. वह कार से बड़ौत आए थे. जब वह फूंस वाली मस्जिद के नजदीक पहुंचे तो पांच युवकों ने उनकी कार रुकवा ली. इस दौरान वे लोग गाली-गलौज करने लगे. जब पत्रकार ने उनका विरोध किया तो युवकों ने तमंचों की बटों से हमला बोल दिया.
जान बचाने के लिए पीड़ित पत्रकार उवैश दौड़ पड़े. लेकिन हमलावरों ने उन्हें बीच बाजार दौड़ाकर पीटा। शोर मचाने पर भीड़ दौड़ी तो हमलावरों ने चेतावनी दी कि वह हाजी तराबुद्दीन के समर्थक हैं, यदि अखबार में गलत खबर छापी तो अंजाम बुरा किया होगा. ज्यादा भीड़ हुई तो हमलावर जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गए. मामले को लेकर पीड़ित ने जमकर हंगामा किया. सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल पत्रकार को सीएचसी में भर्ती कराया, उवैश ने बड़ौत निवासी फारुख समेत पांच युवकों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया है. मंत्री हाजी तराबुद्दीन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पत्रकार के आरोपों को निराधार बताया है. पत्रकार को विरोधियों के बहकावे में आकर ऐसे काम करने का आरोप लगाया है. मामला मंत्री से जुड़ा होने के चलते पुलिस के आला अधिकारियों ने चुप्पी साध ली है और वे मामले से बचते हुए नजर आ रहे हैं.
Sabhar- Bhadas4media.com

0 comments:

Post a Comment

Top Ad 728x90