Top Ad 728x90

  • Sakshatkar.com - Sakshatkar.org तक अगर Film TV or Media की कोई सूचना, जानकारी पहुंचाना चाहते हैं तो आपका स्वागत है. आप मेल के जरिए कोई जानकारी भेजने के लिए mediapr75@gmail.com का सहारा ले सकते हैं.

Monday, 13 July 2015

नाबालिग छात्रों से शारीरिक संबंध बनाती थी ये टीचर, 30 साल की सजा

नई दिल्ली। एक स्कूल की लैडी टीचर को बलात्कार के केस में तीस साल की सजा हुई है। ये टीचर बच्चों को अंग्रेजी पढ़ाया करती थीं। मामला अमेरिकी राज्य यूटा का है। दरअसल ब्रायन एलटीस मैडम अमेरिकी राज्य यूटा के एक हाईस्कूल में इंग्लिश की टीचर थीं। 10th क्लास के टीन एजर लड़कों को पढ़ाते-पढ़ाते इन्होंने अपने ही छात्रों से दिल लगाना शुरू कर दिया। ना सिर्फ दिल लगाना शुरू किया बल्कि नाबालिग लड़कों को बहला फुसलाकर उनके साथ शारीरिक संबंध भी बनाने शुरू कर दिए। मैडम ने कई लड़कों को अपनी हवस का शिकार बना डाला। जाहिर है टीन एजर लड़के थे ये बात छुपी कैसे रह सकती थी। मैडम की आशिकी का राज धीरे-धीरे पूरे स्कूल में खुल गया।
मामला उन छात्रों के परिवारों तक भी जा पहुंचा। छात्रों के माता पिता ने स्कूल प्रिसिंपल से बात की तो मामला जा पहुंचा पुलिस के पास। पुलिस ने ब्रायन एलटीस को तीन नाबालिग लड़कों के साथ बलात्कार के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। अदालत ने सुनवाई के दौरान मैडम को जमानत पर रिहा कर दिया। लेकिन मैडम को इससे भी सबक नहीं मिला। जमानत पर छूटने के बाद ब्रायन एलटीस ने एक बार फिर 16 साल के एक छात्र के साथ शारीरिक संबंध बनाने शुरू कर दिए। ये राज फिर खुल गया और पीड़ित लड़के के माता पिता ने अदालत में गुहार लगाई।
कोर्ट ने पूरा मामला जानने के बाद ब्रायन को तीस साल तक की सजा सुना दी। सजा सुनते ही ब्रायन कोर्ट में फूट-फूटकर रोने लगी। ब्रायन ने लड़कों से माफी भी मांगी। लेकिन एक पीड़ित लड़के की मां ने कहा कि उसका गुनाह माफी के काबिल नहीं है। ब्रायन की वकील ने कोर्ट में ये तर्क भी दिया कि जिन छात्रों को पीड़ित माना जा रहा है दरअसल वो लड़के ही ब्रायन पर डोरे डालते थे। लेकिन कोर्ट ने उसके इन कुतर्कों को नकार दिया। और नाबालिग लड़कों के साथ शारीरिक संबंध बनाने को गंभीर अपराध करार दिया।
बचाव पक्ष की वकील ने ये तर्क भी दिया कि ब्रायन का शादीशुदा जीवन सुखी नहीं था। वो दिमागी तौर पर काफी मुश्किलों से गुजर रही थी। और ऐसे ही हालात में उन लड़कों ने अपनी मैडम पर डोरे डाले तो वो भी इमोशन में बह गई। आपको बता दें ब्रायन की उम्र 36 साल है और उसने जिन छात्रों के साथ शारीरिक संबंध बनाए थे वो सभी उससे आधी उम्र के थे। अदालत ने माना कि ब्रायन ने सिर्फ नाबालिग लड़कों से बलात्कार ही नहीं किया बल्कि उसने सबसे पाकीजा पेशे को भी दागदार बना दिया। यही वजह है कोर्ट ने उसे इतनी सख्त सजा सुनाई।

 Sabhar - http://khabar.ibnlive.com/news/duniya/390133.html

0 comments:

Post a Comment

Top Ad 728x90