क्यों कत्लेआम हो रहा है पत्रकारों का। .

क्यों  कत्लेआम हो रहा है पत्रकारों का। . 

पत्रकारिता  और पत्रकरो को चौथा स्तम्भ कहा जाता है।  फिर ये स्तम्भ  क्यों हिल रहा है।  जहा देखो पत्रकार को मर दिया जाता है या  जला दिया जाता है।  आखिर उसका  गुनाह क्या है।  
क्यों कत्लेआम हो रहा है पत्रकारों का। . क्यों  कत्लेआम हो रहा है पत्रकारों का। . Reviewed by Sushil Gangwar on June 22, 2015 Rating: 5

No comments