Top Ad 728x90

  • Sakshatkar.com - Sakshatkar.org तक अगर Film TV or Media की कोई सूचना, जानकारी पहुंचाना चाहते हैं तो आपका स्वागत है. आप मेल के जरिए कोई जानकारी भेजने के लिए mediapr75@gmail.com का सहारा ले सकते हैं.

Monday, 18 August 2014

'जल्द' ही ईक्वाडोर दूतावास को छोड़ेंगे जूलियन असांज

julian
विकिलीक्स के संस्थापक जूलियन असांज ने सोमवार को एक प्रेर्स वार्ता के में कहा कि वो शीघ्र ही लंदन स्थित ईक्वाडोर दूतावास को छोड़ने की योजना बना रहे है। लेकिन असांज के प्रवक्ता ने बयान दिया कि ये तभी संभव है जब ब्रिटिश सरकार उन्हे ऐसा करने की अनुमति दे। असांज स्वयं के स्वीडन प्रत्यर्पण से बचने के लिए पिछले दो वर्षों से भी अधिक समय से ईक्वाडोर के लंदन स्थित दूतावास में रह रहे हैं।
ब्रिटिश सरकार का कहना है कि असांज को उसके कानूनों का पालन करना होगा। असांज को यौन हमले और बलात्कार के मामले में स्वीडन प्रत्यर्पित किया जाना है। असांज इन सभी आरोपों से इंकार करते रहे हैं। असांज यदि ईक्वाडोर दूतावास की इमारत के बाहर आते हैं तो उन्हे गिरफ्तार कर लिया जाएगा क्योंकि उन्होने ब्रिटेन की अदालत द्वारा दी गयी ज़मानत की शर्तों का उल्लंघन किया है।

असांज के बयान से मीडिया में संदेश गया कि वो जल्द ही दूतावास छोड़ सकते हैं जहां वो जून 2012 से शरण पाए हुए हैं। लेकिन बाद में उनके प्रवक्ता ने बताया कि असांज ऐसा तभी कर सकते हैं ब्रिटिश सरकार दूतावास के बाहर की अपनी घेराबंदी को वापस ले। प्रवक्ता ने कहा कि असांज का स्वयं को पुलिस के हवाले करने का कोई इरादा नहीं है।

43 वर्षीय ऑस्ट्रेलिया निवासी जूलियन असांज को डर है कि अगर ब्रिटिश सरकार ने उन्हे स्वीडन प्रत्यर्पित किया तो स्वीडन सरकार उन्हे संयुक्त राज्य अमरीका को सौंप देगी। अमरीकी इतिहास के सबसे बड़े खुफिया जानकारियों के रहस्योद्घाटन के मामले में अमरीका सरकार असांज पर मुक़दमा चला सकती है।

असांज ने दूतावास में प्रेस वार्ता के दौरान कहा था कि 'मैं जल्द ही दूतावास छोड़ुंगा....लेकिन उन कारणों से नहीं जो इस समय मर्डॉक प्रेस और स्काई न्यूज़ कह रहे हैं।' रुपर्ट मर्डॉक की हिस्सेदारी वाले स्काई न्यूज़ ने ख़बर दी थी कि गिरते स्वास्थ्य के कारण असांज दूतावास को छोड़ सकते हैं। ख़बर में कहा गया था कि लगातार दूतावास के बंद वातावरण में रहने के कारण असांज को हृदय और फेफड़ों से संबंधित गंभीर समस्या हो गई है। 

Sabhar- Bhadas4media.com

0 comments:

Post a Comment

Top Ad 728x90