Sakshatkar.com - Filmipr.com - Worldnewspr.com - Sakshatkar.org

फिल्मो से गायब नहीं हुआ हु---- ओनकार दास


ओनकार दास 

आखिर क्या हुआ आप पीपली लाइव के बाद से एक गुम हो गए। . 

मैंने पीपली लाइव फ़िल्म की थी जिसे माद्यम से मेरी बॉलीवुड में एंट्री हुई।  मै थैंक्स कहना चाहता हु आमिर खान  जी को। मै तो थिएटर का कलाकार हु।  भोपाल में थिएटर करता था।  आज भी कर रहा हु।  फिल्मो से गायब नहीं हुआ हु।  मुझे उसके बाद अच्छे रोल नहीं मिल पाये।  मुझे ऐसा लगता है जो फिल्मे बन रही।  उसमे मेरे लायक रोल नहीं आ रहा है।

क्या बॉलीवुड में गाड़फाथेर होना जरूरी है। 

हां मुझे ऐसा लगता है.. गाड़फाथेर होना जरूरी है। इससे बहुत मदद मिलती है।  आपको पता रहता है क्या और कैसे करना है।  फिल्मे मिलने में थोड़ी सी आसानी हो जाती है।  वैसे तो तो अपना गाड़फाथेर आमिर खान को ही मानता हु।

सुना है आप  टीवी नहीं करना चाहते है। ऐसा क्यों ?
ऐसा कुछ नहीं है अगर कोई लीड रोल मिलेगा तो मै करना चाहुगा।  मै छोटे रोल नहीं करना चाहता हु।  अच्छे रोल का टीवी और फिल्मो का इंतजार है।  जल्दी ही मेरी कुछ फ़िल्म आने वाली है जो पाइप लाइन में है। .


This interview taken by Editor Sushil Gangwar

No comments:

Post a Comment