हजार, डेढ़ हजार रुपये में मीडिया को मैनेज किया पत्रकार राहुल श्रीवास्तव ने

यूपी के मीरजापुर में आयोजित राहुल गांधी की रैली का मीडिया प्रबन्धन देख रहे ‘जनसंदेश’ अखबार के सोनभद्र प्रतिनिधि राहुल श्रीवास्तव ने मीडिया को खूब छकाया और पटाया. राजनीतिक रैली जैसे बड़े आयोजनों के मौके पर सभी मीडिया हाउसों में ज्यादा से ज्यादा विज्ञापन बटोरने की होड़ सी लग जाती है. ऐसे में प्रदेश कांग्रेस कमेटी व स्थानीय कांग्रसियों ने इसे मैनेज करने के लिए राहुल श्रीवास्तव को जिम्मेदारी सौंपी.
सोनभद्र में ‘हिंदुस्तान’ के पुराने प्रतिनिधि रहे राहुल श्रीवास्तव सोनभद्र के बड़े खनन कारोबारी भी हैं. कुछ माह पूर्व इन्होंने कांग्रेस से उम्मीदवारी के चक्कर में हिंदुस्तान अखबार छोड़ दिया पर टिकट पाने में असफल होने के चलते फिर दुबारा जनसंदेश से जुड़ गये. पर उनका कांग्रेस से मोहभंग नहीं हुआ और वे इससे भी जुड़े रहे. इसी के चलते उन्हें मीरजापुर में मीडिया प्रबंधन की जिम्मेदारी सौपी गई.

मीडिया प्रबंधन में माहिर राहुल श्रीवास्तव ने अपने थर्मामीटर से मीडिया को छोटा-बड़ा, मोटा-पतला नापना शुरू किया और जिसकी जितनी हैसियत उसे उतना विज्ञापन दिया. बनारस से प्रकाशित अखबार क्लाउन टाइम्स से बातचीत में राहुल श्रीवास्तव ने बताया कि उन्होंने हजार-दो हजार रुपये देकर मीडिया को मैंनेज किया. जब उनसे यह पूछा गया कि क्या बड़े समाचार पत्रों के प्रतिनिधियों ने आपसे इतनी छोटी रकम ली तो वे पहले तो हां बोले पर जब उन्हें पता चला कि उनका यह बयान खबर का हिस्सा बनेगा तो वे अपनी बात से मुकरने लगे.
राहुल श्रीवास्तव ने फिर सफाई दी कि अपने मीडिया प्रतिनिधियों को हजार-दो हजार में मैनेज किया और कहा कि मैं भी पत्रकार हूं. वाराणसी कांग्रेस के मीडिया प्रभारी अनिल श्रीवास्तव ‘अन्नू’ स्थानीय मीडिया प्रतिनिधियों को लगातार विज्ञापन के लिए राहुल श्रीवास्तव का मोबाइल नंबर देते रहे और राहुल श्रीवास्तव उन्हें छकाते रहे. यह बात अलग रही कि झमाझम बारिश ने मीरजापुर में आयोजित रैली पर पानी फेर दिया और वहां का कार्यक्रम अंतिम समय पर रद करना पड़ा. (साभार: क्लाउन टाइम्स)
हजार, डेढ़ हजार रुपये में मीडिया को मैनेज किया पत्रकार राहुल श्रीवास्तव ने हजार, डेढ़ हजार रुपये में मीडिया को मैनेज किया पत्रकार राहुल श्रीवास्तव ने Reviewed by Sushil Gangwar on March 02, 2014 Rating: 5

No comments

Post AD

home ads