एक्टिंग भगवान् का दिया हुआ गिफ्ट है। ---गीतांजलि मिश्रा



आप  एक्टिंग के फील्ड में कैसे आयी। . 

मैं बी. ए  करने के  बाद मुम्बई में नौकरी कर रही थी। . एक मेरे एक दोस्त का फ़ोन आया। . तुम्हारे लिए लिए एक किरदार है तुम चाहो तो कर सकती हो। मैंने उस किरदार के लिए हामी भर दी। . उसके बाद में लगातार छोटे परदे पर आ रही हु। . वैसे तो वनारस कि रहने वाली हु मगर मेरी परवरिश मुम्बई में ही हुई है।

आपका रंग रसिया में रोल  क्या है। 

मै इसमे मैथली का रोल कर रही हु।  जो अपनी सास से डर  कर रहती है।  सास जो भी कहती है वह मै  करती जाती हु।  सच कहु तो एक दब्बू बहु का किरदार निभा रही हु।

आपके बारे में कहा जाता है आप फ़िल्म नहीं करती।  इसका क्या कारण  है। 

मै अपनी प्रतिभा को घर घर तक पहुचाना चाहती हु।  टीवी एक सशक्त माद्यम है।  आज कल तो बड़े स्टार भी टीवी ज्वाइन कर रहे है।

आपके आने वाले टीवी सीरियल कौन कौन से है।
मै    सावधान इंडिया  , क्राइम पेट्रोल , रंग रसिया कर रही  हु   और  आने वाले सीरियल में इक लक्छ आ रहा है।

जो लोग फिल्मो में आना चाहते है उनके लिए क्या सन्देश है। 

एक्टिंग भगवान् का दिया हुआ गिफ्ट है।  अगर आपके अंदर प्रतिभा है तो आप बॉलीवुड में आ सकते है।  अगर आये तो पूरी तैयारी से आये।  हो सके तो कोई एक्टिंग स्कूल या थिएटर कर सकते है।  इससे काफी लाभ होगा।

क्या टीवी और फिल्मो में कोम्प्रोमाईज़ चलता है। .

जहा आग होती है वही धुँआ होता है। . मै खुद नहीं जानती आखिर मुझे सिनेमा से क्यों घुटन होती है मगर होती है।  हम लोग गिफ्ट का रैपर बनकर रह गए है।  मगर रैपर नहीं बनना चाहती हु।  इसलिए टीवी की दुनिया में ही खुश हु।

This interview taken by Editor Sushil Gangwar ..

एक्टिंग भगवान् का दिया हुआ गिफ्ट है। ---गीतांजलि मिश्रा एक्टिंग भगवान् का दिया हुआ गिफ्ट है।  ---गीतांजलि मिश्रा Reviewed by Sushil Gangwar on March 01, 2014 Rating: 5

No comments

Post AD

home ads