Top Ad 728x90

  • Sakshatkar.com - Sakshatkar.org तक अगर Film TV or Media की कोई सूचना, जानकारी पहुंचाना चाहते हैं तो आपका स्वागत है. आप मेल के जरिए कोई जानकारी भेजने के लिए mediapr75@gmail.com का सहारा ले सकते हैं.

Friday, 13 December 2013

तहलका पर एक और कालिख, कोयला घोटाले में आरोपी कम्पनी से सम्बन्ध

नई दिल्ली । तरूण तेजपाल के बाद तहलका के मुंह पर एक और कालिख पुत गई है। पहले तेजपाल के चलते बदनामी झेल रही इस मैग्जीन के बारे में एक और नया खुलासा हुआ है। इस मैग्जीन में उन दो कंपनियों की हिस्सेदारी रही है, जिनका संबंध नवीन जिंदल की उस कंपनी से है, जिसका नाम कोयला घोटाले की एफआईआर में शामिल है। रोजाना कोई न कोई खुलासा करने वाले और पत्रकारिता में नए आयाम स्थापित कर चुके इंडियन एक्सप्रेस न्यूज पेपर ने 13 दिसम्बर के अंक में यह विशेष खबर प्रकाशित की है। इन दोनों कंपनियों ने तेजपाल की कंपनी अनंत मीडिया में 28 करोड़ 35 लाख रूपए का निवेश किया।
 
अनंत मीडिया ही तहलका मैग्जीन का प्रकाशन करता है। एक्सप्रेस में प्रकाशित उसी खबर के अनुवाद का सार यहां प्रस्तुत किया गया है। इंडियन एक्सप्रेस के पास मौजूदा दस्तावेज के मुताबिक एनलाइटेंड कंसल्टेंसी सर्विसेज ने 16 करोड़ 75 लाख रूपए और वेल्डन पोलिमर्स प्राइवेट लिमिटेड ने 11 करोड़ 60 लाख रूपए का निवेश अनंत मीडिया में किया। दोनों ही कंपनियों ने तहलका में अपने शेयर की पहली दो हिस्सेदारी में निवेश एक ही तारीख 20 जून 2008 और 20 नवम्बर 2008 को किया। दोनों कंपनियों ने अनंत मीडिया का 10 रूपए का शेयर 10,623 रूपए के प्रीमियम पर खरीदा। इस प्रकार अनंत मीडिया को 93.1 करोड़ रूपए में आंका गया, जो उस समय 21.06 करोड़ रूपए के नुकसान में थी। उदाहरण के तौर पर एनलाइटेंड कंपनी ने वर्ष 2008 में 10,623 रूपए के प्रीमियम पर शेयर खरीदे और फिर वर्ष 2009 में वापस तहलका को 10 रूपए प्रति शेयर के हिसाब से बेच दिए। कुछ ही दिनों के बाद तहलका ने ये शेयर तृणमूल कांग्रेस के सांसद केडी सिंह के रायल बिल्डिंग एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड को 2,505 रूपए के प्रीमियम पर जारी कर दिए। एनलाइटंड ने कुल मिलाकर 22,605 शेयर केडी की कंपनी को जारी किए। वर्ष 2010 में केडी सिंह की कंपनी के कुल शेयर 29,139 हो गए। जिनमें से 6,534 शेयर वेल्डन पोलिमर्स से खरीदे गए। इस तरह अनंत मीडिया ने 10 रूपए के एक शेयर के लिए 13,128 रूपए इकट्ठे किए। 
इंडियन एक्सप्रेस में प्रकाशित यह खबर सिर्फ तहलका से जुड़ी हुई है, इसलिए महत्वपूर्ण नहीं है, बल्कि इसका महत्व इसलिए भी है कि जिन दो कंपनियों एनलाइटेंड अैर वेल्डन का जिक्र किया गया है, उनका जुड़ाव नवीन जिंदल की कंपनी से रहा है, जिसका नाम कोयला घोटाले की एफआईआर में दर्ज है। इस खबर के बारे में विस्तृत जानकारी के लिए 13 दिसम्बर 2013 के इंडियन एक्सप्रेस न्यूज पेपर को पढ़ा जा सकता है। यह खबर इंटरनेट संस्करण पर भी उपलब्ध है।
 
दीपक खोखर युवा व तेजतर्रार पत्रकार हैं. इनसे सम्पर्क 09991680040 के जरिए किया जा सकता है
Sabhar- Bhadas4media.com.

0 comments:

Post a Comment

Top Ad 728x90