तेजपाल से छह दिनों में बंगारू और गुजरात दंगों के खुलासों का हिसाब चुकता करेगी गोवा की बीजेपी सरकार

Deepu Naseer :  गोआ पुलिस को तेजपाल की छह दिन की रिमांड मिल गयी है, हालांकि मांगी 14 दिन की थी। एफआईआर के मुताबिक अपराध में सिर्फ और सिर्फ तेजपाल ही शामिल था। मतलब, पुलिस को तेजपाल से किसी और आरोपी का पता ठिकाना नहीं मालूम करना है। तेजपाल ने अपराध करते वक़्त किसी हथियार का भी इस्तेमाल नहीं किया यानि पुलिस को हथियार भी बरामद नहीं करना है। तो क्या तेजपाल कोई रैकेट चलता था? ऐसी भी अब तक कोई खबर नहीं आयी है।

वो जितना भी दुष्ट हो लेकिन ऐसी भी कोई न्यूज़ नहीं है कि किसी आतंकवादी संगठन या माफिया से उसका सम्बन्ध हो? फिर छह दिन पुलिस उससे क्या पूछेगी? ''क्या इंसाफ का तराज़ू'' का सीन क्रिएट करेगी? हैरत इस बात पर है कि पुलिस ने 14 दिन की रिमांड मांगी थी। मुझे ऐसा क्यों लग रहा है कि गोआ की बीजेपी सरकार उससे बंगारू और गुजरात दंगों के खुलासों का हिसाब चुकता करेगी।

ग्वालियर के पत्रकार दीपू नसीर के फेसबुक वॉल 
तेजपाल से छह दिनों में बंगारू और गुजरात दंगों के खुलासों का हिसाब चुकता करेगी गोवा की बीजेपी सरकार तेजपाल से छह दिनों में बंगारू और गुजरात दंगों के खुलासों का हिसाब चुकता करेगी गोवा की बीजेपी सरकार Reviewed by Sushil Gangwar on December 02, 2013 Rating: 5

No comments