Sakshatkar.com - Filmipr.com - Sakshatkar.org

भ्रम में मत रहिये, 100 लोग में 4 लोग ही समाचार चैनल देखते हैं

पंकज शुक्ला
न्यूज़ चैनलों को लेकर बहुत लोगों के मन में ये रहता है कि पूरा देश दिन भर बस न्यूज़ चैनल ही खोले बैठा रहता है। और, देश बनता बिगड़ता है तो बस इन्हीं न्यूज़ चैनलों से। तो, ताकि सनद रहे वाली तर्ज पर टीवी दर्शकों का ये लेटेस्पाट पाई ग्राफिक्स पेश ए खिदमत है। समझाने के लिए बता दें कि इस ग्राफिक्स में हर रंग एक खास तरह के चैनलों का दर्शक प्रतिशत बता रहा है। मसलन, एक समय में अगर सौ लोग टेलीविजन देख रहे हों तो सारे हिंदी न्यूज़ चैनल मिलाकर भी कुल जमा चार लोग बमुश्किल इन्हें देख रहे होते हैं। अंग्रेजी न्यूज़ चैनलों की पूरी मारामारी तो बस 0.1 परसेंट को लेकर है।
relative share
(फिल्म समीक्षक और टीवी9 के इंटरटेनमेंट हेड पंकज शुक्ला के एफबी वॉल से साभार)

साक्षात्कार डाट काम

साक्षात्कार डाट काम सूचित करता है। अब उन ही खबरों को अपडेट किया जाएगा , जिस इवेंट , प्रेस कांफ्रेंस में खुद शरीक हो रहा हू । इसका संपादन एडिटर इन चीफ सुशील गंगवार के माध्यम से किया जाता है। अगर कोई ये कहकर इवेंट , प्रेस कॉन्फ्रेंस अटेंड करता है कि मै साक्षात्कार डाट कॉम या इससे जुडी कोई और न्यूज़ वेबसाइट के लिए काम करता हू और पैसे का लेनदेन करता है, तो इसकी जिम्मेदारी खुद की होगी। उसकी कोई न्यूज़ साक्षात्कार डाट कॉम पर नहीं लगायी जायेगी। ..
Sushil Gangwar