एकजुट हुए डीपी यादव और महान दल


0058पूर्व विधायक डीपी यादव ने राष्ट्रीय परिवर्तन दल को पुनर्जीवित करते हुए महान दल के साथ मिलकर प्रदेश की सभी लोकसभा सीटों पर चुनाव लडऩे की घोषणा की है। देश व प्रदेश की हालत हर क्षेत्र में दयनीय है। देश के समक्ष कई चुनौतियां हैं राजनीति की परिभाषा बदल गई है और नेतागण भी स्वार्थी व बेईमान होते जा रहे है। ये तमाम बातें राष्ट्रीय परिवर्तन दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष डीपी यादव ने बुधवार का राजधानी में आयोजित एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कही।
राष्ट्रीय परिवर्तन दल के सुप्रीमो डीपी यादव ने कहा कि, वह भाजपा से समझौते से चुनाव लड़ सकते हैं लेकिन भाजपा के टिकट पर नहीं। उन्होंने बताया कि कि प्रदेश की सपा सरकार पिछड़े वर्गों के साथ न्याय नहीं कर रही है। कानून व्यवस्था ठप है। महिलाओं के खिलाफ अपराध बढ़ रहे हैं। आए दिन सांप्रदायिक तनाव की घटनाएं भी बढ़ रही हैं। कुल मिलाकर सपा सरकार हर मोर्चे पर विफल है। लैपटाप वितरण योजना पर बोलते हुए श्री यादव ने कहा कि लैपटाप बांटने में कोई बुराई नहीं है लेकिन लैपटाप बांटने के पीछे वोट हथियाने की मंशा छिपी है इसलिए इस योजना का लाभ गिने चुने युवाओं को मिल रहा है। विधान सभा चुनाव से पूर्व सपा में शामिल न हो पाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि मुलायम सिंह यादव ने मुझे बुलाकर साथ देने को कहा था और सारी बातें तय भी हो गयी थी। राष्ट्रीय परिवर्तन दल के सपा में विलय के लिए राम गोपाल यादव और आजम खां भी राजी थी लेकिन बाद में पता चला कि अखिलेश यादव ने मना कर दिया है, मैं किसी के पास टिकट मांगने नहीं गया था। श्री यादव ने कांग्रेस के नेतृत्व वाली केन्द्र सरकार की जनविरोधी नीतियों की भी आलोचना की। उन्होंने बताया कि शाक्य, मौर्य, कुशवाहा समुदाय में गहरी पैठ रखने वाले महान दल के साथ लोकसभा चुनाव प्रदेश की सभी सीटों के अलावा मध्य प्रदेश, दिल्ली और दूसरे राज्यों में भी प्रत्याशी उतारे जाएंगे। इस लड़ाई में अभी और दल जुड़ेंगे, जल्द ही इस गठबंधन का नामकरण कर दिया जाएगा। श्री यादव ने बदायूं, आंवला और सम्भल से चुनाव लडऩे की इच्छा जतायी।
महान दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष केशव देव मौर्य का राष्ट्रीय परिवर्तन दल के साथ चुनाव लड़कर प्रदेश की जनता को एक मजबूत विकल्प देना चाहते हैं। बीते विधानसभा चुनाव में महान दल के प्रदर्शन की चर्चा करते हुए केशव देव ने दावा किया कि उनका गठबंधन कई सीटों के नतीजे प्रभावित करेगा। एक सवाल के जबाव में मौर्य ने कहा कि यदि एनआरएचएम घोटाले में पूर्व मंत्री बाबू सिंह कुशवाहा अगर दोषी हैं तो मायावती भी दोषी हैं, और उन्हें भी जेल जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि वे प्रदेश के अन्य छोटे दलों से भी बात कर रहे हैं ओर उम्मीद है कि चुनाव तक एक मजबूत गठजोड़ के बैनर तले चुनाव लड़ा जाए। फिलहाल बीस सितंबर को दोनों दल अपनी ताकत दिखाने के लिए गोरखपुर में एक रैली करने जा रहे हैं जिसमें राष्ट्रीय परिवर्तन दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष डीपी यादव शामिल होंगे। - आशीष वशिष्ठ
Sabhar- weeandtimes.com
एकजुट हुए डीपी यादव और महान दल एकजुट हुए डीपी यादव और महान दल Reviewed by Sushil Gangwar on September 12, 2013 Rating: 5

No comments

Post AD

home ads