मौत मंजूर पर पाकिस्तान वापस नहीं जाएंगे हिंदू परिवार-



कुम्भ मेले में स्नान करने के लिए एक माह का वीजा लेकर भारत आए 480 हिन्दू पाकिस्तानी अब किसी भी हालत में वापस लौटना नहीं चाहते. उन्हें मौत तो मंजूर है लेकिन पाकिस्तान वापसी नहीं.इन परिवारों में पुरुष, महिलाएं व बच्चे मिलाकर कुल 480 लोग हैं

उनका कहना था कि देश विभाजन के बाद से ही पाकिस्तान में उनके साथ गुलामों जैसा व्यवहार हो रहा है और आये दिन न केवल उन पर जुल्म, ज्यादती व हमले होते हैं बल्कि उनकी आंखों के सामने ही उनकी बहू बेटियों की इज्जत लूट ली जाती है. उन्होंने बताया कि बेटियों की इज्जत बचाने के लिए वह 10 से 12 वर्ष की उम्र में ही उनकी शादियां कर देते हैं.

इन लोगों ने बताया कि वह पिछले कई वर्षों से भारत आने की योजना बना रहे थे, लेकिन उन्हें वीजा नहीं मिल रहा था. इस वर्ष कुम्भ का मेला होने के कारण उन्हें पता चला कि मेले में स्नान के लिए पाकिस्तानी हिन्दुओं को वीजा दिया जाता है, कुम्भ के लिए ही उन्होंने वीजा लिया था. इन पाकिस्तानी हिन्दुओं का नेतृत्व कर रहे पाकिस्तान के हैदराबाद निवासी धर्मवीर बागड़ी ने दक्षिण पश्चिम जिले के उपायुक्त तथा केन्द्र सरकार को पत्र लिखकर भारतीय नागरिकता देने की मांग की है.

विश्व हिन्दू परिषद ने पाकिस्तान से आये इन सभी परिवारों को भारतीय नागरिकता देने की मांग की है
मौत मंजूर पर पाकिस्तान वापस नहीं जाएंगे हिंदू परिवार- मौत मंजूर पर पाकिस्तान वापस नहीं जाएंगे हिंदू परिवार- Reviewed by Sushil Gangwar on April 08, 2013 Rating: 5

No comments