अलविदा ग़ज़लों के शहंशाह मेहंदी हसन....

Pradeep Srivastava Ghazal Singer----
अलविदा ग़ज़लों के शहंशाह मेहंदी हसन....
दुनिया-ए-मौसिकी के शहंशाह मेहंदी हसन जिन्होंने पचास साल संगीत ग़ज़ल गायकी, ठुमरी और फिल्मी गीतों के द्वारा अपने स्वरों लोगों के दिलों दिमाग पर छाये रहे आज १३ जून २०१२ को पाकिस्तान के कराची के आगा खान हास्पिटल में ज़िन्दगी और मौत से जद्दोजहद करने के बाद ८४ वर्ष की उम्र में दुनिया-ए-खानी से रुखसत हो गए | हिन्दुस्तान में उनके चाहने वाले यही कहते हैं कि उनके गले में सरस्वती रहती हैं | मेहंदी हसन को चाहने वाले मेहंदी हसन को कभी न भूल सकेंगे | मेहंदी हसन ने अपने वालिद उस्ताद अजीम खां और चाचा उस्ताद इस्माइल खां जो की ध्रुपद शैली के कलाकार थे से शिक्षा ली थी | १९५७ में पहली बार पाकिस्तान रेडियो से इनकी ठुमरी का प्रसारण हुआ था |
कानपुर के ग़ज़ल गायक प्रदीप श्रीवास्तव जो ख़ुद मेहंदी हसन की ग़ज़लों को हर महफ़िल में गाते हैं ने बताया कि श्री अरुण महरोत्रा जो श्री कृष्णा पहलवान के पौत्र और श्री पूरन चन्द्र महरोत्रा के पुत्र है और मेरे मित्र हैं उनके मुताबिक १९७६ में जनाब मेहंदी हसन ने कानपुर और लखनऊ में प्रोग्राम किया था | उस समय जनता पार्टी का उत्तर प्रदेश में शासन था और श्री राम नरेश यादव मुख्य मंत्री थे और केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी | जब इनके प्रोग्राम की परमिशन प्रदेश सरकार से मांगी गए तो इनको परमिशन नहीं मिली | श्री पूरन चंद मेहरोत्रा के श्री अटल बिहारी बाजपेयी जी से अच्छे सम्बन्ध थे तो श्री अटल जी के सहयोग से कानपुर और लखनऊ में इनका कार्यक्रम हुआ | श्री अरुण मेहरोत्रा जी के मुताबिक लालबंगला के आर्मी के नरेन्द्र स्टेडियम में २५० तख्तों का मंच बनाया गया था ,और लगभग चार घंटे से ऊपर मेहंदी हसन साहब ने ग़ज़लें गईं वो ख़ुद कहते थे कि इतनी देर तक कभी ग़ज़लें नहीं पेश की | कानपुर के बाद जब लखनऊ में उनका प्रोग्राम हुआ तो ठंडाई में उन्हें थोड़ी भांग मिला दी उसके बाद तो जो उन्होंने झूम के गाया उसे आज भी लखनऊ के निवासी याद करते हैं | बाद में मेहंदी हसन साहब श्री पूरन चंद से पूछते हैं उस्ताद क्या खिलाया कि बस गाता चला गाया और इन्ही के प्रोग्राम से कानपुर की सबसे पुरानी कार्ड की दुकान में.कृष्णा कार्ड का एक नाम हो गाया था |





अलविदा ग़ज़लों के शहंशाह मेहंदी हसन.... अलविदा ग़ज़लों के शहंशाह मेहंदी हसन.... Reviewed by Sushil Gangwar on June 13, 2012 Rating: 5

No comments