जलहरण घनाक्षरी : आम आदमी (भोजपुरी )


जलहरण घनाक्षरी : आम आदमी (भोजपुरी )
चकरी में जोरू संग, दराला आम आदमी, 
रोज-रोज चउक प, बिकेला आम आदमी |

खाली बस चुनाव में, आवेला उ धियान में,
जनता जनारदन, कहाला आम आदमी |

करिया कमाई करे, उजर पहिर देख, 
सुलुग-सुलुग अब, जरेला आम आदमी |

होला सियासत खाली, धरम के नाम पर,
मसजिद में राम के, देखेला आम आदमी ||
  • गणेश जी "बागी"
जलहरण घनाक्षरी : आम आदमी (भोजपुरी ) जलहरण घनाक्षरी : आम आदमी (भोजपुरी ) Reviewed by Sushil Gangwar on June 03, 2012 Rating: 5

No comments