पेड़ न्यूज़ के बफादार दलाल पत्रकार


पेड़ न्यूज़ की दुकान हर जगह खुल गयी है , दैनिक वीकली न्यूज़ पेपर और न्यूज़ वेबसाइट वाले बफादार पत्रकार जम कर दलाली में अपने हाथ मुह काला कर रहे है ? ऐसा ही चलन बरेली चल रहा है | यहाँ के दैनिक न्यूज़ पेपर के पत्रकार न्यूज़ छापने के बदले पैसा मागने से नहीं हिचकते है | विज्ञापन गया तेल बेचेने ? यहाँ के पत्रकार विज्ञापन कम पैसा जायदा मागते है क्यों की पैसा सीधे पत्रकार की जेव में जाता है और विज्ञापन का पैसा मालिक की जेब में ?

फिर पत्रकार अपना नुक्सान क्यों करे | यहाँ कुछ पुराने बिकाऊ पत्रकार है जो फ्रीलांसर पत्रकार होकर काम करते है इन पत्रकार लोगो ने छोटे डेली पेपर पकड़ लिए है वेतन तो मिलता नहीं, हां घर का खर्चा चलाने के लिए हफ्ते में सरकारी विभाग में जाके अधिकारी के ऊपर कम्बल डाल आते है यहाँ पर कम्बल डालने का मतलब होता है पैसा वसूलना |

खैर इन दलाल पत्रकारों का दलाली करने का तरीका भी शातिर है | कभी मोबाइल , कभी लोकल फ़ोन से अधिकारी को धमकाते है और कहते है फला पेपर के लिए तुम्हारी शिकायत आयी है क्या करे छापे या छोड़ दे | बेचारा अधिकारी रो कर कह देता है बाप मेरे मत छाप तू मेरे ऑफिस में आ जा और खर्चा ले जा | पेड़ न्यूज़ के बफादार सिपाही कभी पैदल कभी किसी की मोटर साइकिल पर लद कर वसूली करने निकल पड़ते है मजे की बात यह है यह दलाल पत्रकार बड़े बड़े पेपर से जुड़े है जिसकी मार्केट में काफी साख है | फिर अगर हम कहते है मीडिया बिकाऊ है तो एतराज क्यों ?

एडिटर
सुशील गंगवार
फ़ोन -०९१६७६१८८६६
पेड़ न्यूज़ के बफादार दलाल पत्रकार पेड़ न्यूज़ के बफादार दलाल पत्रकार Reviewed by Sushil Gangwar on June 22, 2012 Rating: 5

No comments