आईपीएल के फाइनल में आने वाली टीमें फिक्स थीं या पूरा तमाशा ही फिक्स था?



टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर कंपनी वोडाफोन ने अपने ग्राहकों को चेन्नई सुपरकिंग्स के आईपीएल फाइनल के लिए क्वालीफाई करने से पहले ही संदेश भेज दिया था कि टीम फाइनल में पहुंच गई है। कंपनी ने ग्राहकों को पिछले शुक्रवार यानि 25 मई की सुबह को ही एसएमएस भेजते हुए घोषणा कर दी थी कि “आईपीएल फाइनल्स! इस रविवार को देखिए कोलकाता नाइट राइडर्स बनाम चेन्नई सुपरकिंग्स का मुकाबला।” यह एसएमएस आईपीएल क्वालीफायर से घंटों पहले भेजा गया, जिसमें चेन्नई ने दिल्ली को हराकर फाइनल में प्रवेश किया। आईपीएल के फाइनल पर न सिर्फ वोडाफोन के एसएमएस से सवाल उठ रहे हैं, बल्कि चार दिन पहले फेसबुक के एक पेज पर भी फाइनल की टीमें बता दी गईं थीं।
अब वोडाफोन आईपीएल प्रचार मैसेज में गफलत की बात स्वीकार कर रहा है। कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि वोडाफोन ने आईपीएल प्रचार योजना में इस गलती की पहचान शुक्रवार देर रात कर ली थी। “गलती हमारी तरफ से यह थी कि हमने सोचा कि केकेआर और सीएसके फाइनल में खेल रहे हैं।” वोडाफोन के प्रवक्ता ने कहा कि बाद में इस गलती में सुधार कर लिया गया था। कंपनी ने साथ ही कहा कि यह घटना केवल हैदराबाद में हुई थी और किसी अन्य शहर से इसका कोई लेना-देना नहीं है।
आईपीएल और कोलकाता नाइट राइडर्स की वेबसाइट पर भी गड़बड़ी का शक है। टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक फेसबुक पर किसी ने नाइट राइडर्स की अधिकारिक वेबसाइट के पेज को पोस्ट किया, जिसमें ये कहा गया था कि चार दिन बाद कोलकाता और चेन्नई का मुकाबला होने वाला है। गौर करने वाली बात ये है कि स्क्रीन के पेज में जो वक्त दिखाया गया था वो चार दिन सात घंटे 41 मिनट पहले का था और तब तक एलिमिनेटर और दूसरा क्वालीफायर भी नहीं हुए थे। ऐसा ही एक पोस्ट 23 मई को आईपीएल की आधिकारिक वेबसाइट पर था, जिसमें कहा गया था कि अगले मैच में दो दिन 10 घंटे बाकी हैं और ये मुकाबला दिल्ली और चेन्नई में होगा। सवाल ये उठता है कि पहले ये कैसे बता दिया गया कि मुकाबला दिल्ली और चेन्नई में होगा, जबकि चेन्नई और मुंबई का मुकाबला हुआ भी नहीं था।
Sabhar- Mediadarbar.com
आईपीएल के फाइनल में आने वाली टीमें फिक्स थीं या पूरा तमाशा ही फिक्स था? आईपीएल के फाइनल में आने वाली टीमें फिक्स थीं या पूरा तमाशा ही फिक्स था? Reviewed by Sushil Gangwar on May 30, 2012 Rating: 5

No comments

Post AD

home ads