महंगा पड़ा आसाराम बापू को पत्रकार से उलझना, खानी पड़ सकती है हवालात की हवा


पहले से ही विवादास्पद रहे संत आसाराम बापू एक बार विवादों में घिर गए हैं। यूपी में एक पत्रकार को थप्पड़ मारने के आरोप में आसाराम बापू और उनके समर्थकों के खिलाफ केस दर्ज करवाया गया है। मामला उत्तर प्रदेश के भदोही जिले का है, जहां गुरुवार को रोहित गुप्ता नाम के एक पत्रकार ने बाबा के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। पत्रकार का आरोप है कि बाबा और उनके समर्थकों ने उसके साथ मारपीट की और गालियां भी दीं। इतना ही नहीं बाबा के लोगों ने उनका कैमरा तक छीन लिया। 
पत्रकार एक न्यूज चैनल में काम करते हैं और वो बाबा के कार्यक्रम की कवरेज के लिए गए थे। उन्होंने बताया कि वह आसाराम बापू की लाल बत्‍ती वाली गाड़ी की कवरेज कर रहे थे, इसी पर बाबा भड़क उठे और उन्होंने अपने लोगों से उन्हें पकड़ने के लिए कहा।
दरअसल, भदोही जिले में गोपीगंज में स्थित राम‍लीला मैदान में आसाराम बापू का कार्यक्रम था। पत्रकारों को खबर मिली कि आसाराम बापू गैरकानूनी तरीके से लालबत्‍ती लगी कार में घूम रहे है। बनारस एवं मिर्जापुर में प्रवचन के दौरान यह खबर सामने आई थी। जिले के टीवी जर्नलिस्ट रोहित भी इसकी सूचना मिलने के बाद कवरेज के लिए पहुंच गए। आसाराम बापू जब कार्यक्रम से पहले आराम करने के लिए गोपीगंज के आइडियल कारपेट के सामने लाल बत्‍ती लगी गाड़ी से रुके तो रोहित विजुअल बनाने लगे। वे विजुअल बना ही रहे थे कि आसाराम की निगाह उन पर पड़ गई। आसाराम ने रोहित से पूछा कि क्‍या कर रहे हो?
इस पर रोहित ने कहा कि पत्रकार हूं और कवरेज कर रहा हूं. रोहित ने बताया, ‘इतना सुनते ही आसाराम ने मुझे को मां-बहन की गाली दी तथा कहा कि तुम्‍हारी औकात अभी दिखाता हूं।  इतना कहना था कि उसके आसपास मौजूद समर्थक तथा सुरक्षागार्डों ने मुझे पकड़ लिया तथा लगभग घसीटते हुए आसाराम के पास ले गए। आसाराम ने मेरा कैमरा छिनवाते हुए मुझे एक थप्‍पड़ मारा तथा अपने लोगों को कहा कि पीटो इसे। इसके बाद उसके सहयोगियों ने मेरी पिटाई शुरू कर दी। किसी तरह एक व्‍यक्ति ने बीच-बचाव करके मुझे को बचाया, पर उन लोगों ने कैमरा वापस करने से इनकार करते हुए मुझे को भगा दिया। साथ ही धमकी दी कि बोलोगे तो खतम भी करवा देंगे।
पूरे प्रकरण में पुलिस की भूमिका भी बेहद संदेहास्पद रही है। पत्रकारों ने बापू के खिलाफ थाने के बाहर प्रदर्शन किया और नारेबाजी भी की लेकिन कोई कार्रवाई करने से अधिकरी बचते रहे। बताया जाता है कि जब मामला मीडिया और मीडियाकर्मियों के बीच तूल पकड़ने लगा तब जाकर उच्च अधिकारियों ने केस दर्ज़ करने के निर्देश दिए। पुलिस अधूक्षक ए.के.शुक्ला के मुताबिक विवादास्पद संत आसाराम, उनके समर्थक और सुरक्षा गार्ड पर मार-पीट का मामला दर्ज़ किया गया है। पुलिस इन सभी से पूछताछ करेगी और जरूरत पड़ने पर थाने भी ला सकती है।
हाल ही में आसाराम ने इंदौर में एक सेवादार को मंच पर से ही गालियां दे दी थीं। इसके पहले वे किन्नरों के बारे में भी उटपटांग बयान देकर चर्चा में आ चुके हैं। तब उन्हें किन्नरों से सार्वजनिक तौर पर माफ़ी मांगनी पड़ी थी।
Sabhar- Mediadarbar.com
महंगा पड़ा आसाराम बापू को पत्रकार से उलझना, खानी पड़ सकती है हवालात की हवा महंगा पड़ा आसाराम बापू को पत्रकार से उलझना, खानी पड़ सकती है हवालात की हवा Reviewed by Sushil Gangwar on April 27, 2012 Rating: 5

No comments