सस्ती लोकप्रियता के लिए कुछ भी करेगा

न्यू, यानी वेब मीडिया के एक बड़े पक्षधर एक भारतीय पोर्टल ने लोकप्रियता या तकनीकी भाषा में कहें कि हिट्स पाने के लिए आज वीडियो पे खेला है. शीर्षक कुछ ऐसे है कि चैनल की गलती से लाखों ने पोर्न देखा.


ज़ाहिर है साईट हिंदी में और शीर्षक ऐसा कि कोई भी ऐसा भारत में हुआ होगा मानेगा. कोई भी क्लिक करेगा. किया भी होगा कईयों ने. लेकिन इस तरह की हिट्स के साथ न साईट पहले विज्ञापनों से भरपूर है, न अब ही हो गयी होगी. लेकिन ये पोर्न पढ़वाते और दिखाते समय उसने अपनी नैतिकता ही ताक पे नहीं रखी, खुद को सजा का हकदार भी बना लिया है. खबर में जिसका ज़िक्र है वो चैनल विदेशी और उस पे वो वीडियो एक साल से भी ज़्यादा पुराना है. उस देश के कानून के अनुसार आप बालिग़ हैं तो वो वीडियो देखना, दिखाना भी गुनाह न हो शायद. लेकिन भारतीय क़ानून के अनुसार उस चैनल की गलती बताने के लिए भी उस पोर्न को दिखाना जुर्म है. अश्लीलता परोसने, करने वाले कानून के अंतर्गत अपराध. इस साईट ने उस पोर्न को उसी के उसी रूप में दिखाया है, उस तरह के द्रश्यों को मोज़ैक (धुंधला) किये बगैर.


आइये उम्मीद करें कि थोथी लोकप्रियता की खातिर या उस से हिट्स और उस से विज्ञापन भी आते हों, तो भी भारतीय समाज में अश्लीलता यों नहीं परोसी जाएगी



Sabhar- journalistcommunity.com
सस्ती लोकप्रियता के लिए कुछ भी करेगा सस्ती लोकप्रियता के लिए कुछ भी करेगा Reviewed by Sushil Gangwar on February 23, 2012 Rating: 5

No comments