फेसबुक पर फर्जी दोस्ती का बाजार गर्म



मैंने किसी से पूछा भाई फेस बुक पर कितने मित्र है तो तपाक से बोला की ४५००/- है अब सवाल आता है कितने रियल है कितने फर्जी . क्या सामाजिक साईट के दोस्त रियल जिन्दगी के दोस्तों से अच्छे होते है बुरे वक़्त में कितने दोस्त काम में आ सकते है . 

हकीकत में जिन्दगी में दोस्त दो या चार ही होते है जिन्दगी के हर मोड़ पर काम आते है सामाजिक साईट के दोस्त काम आते है भाई मेरी लिस्ट में २५०० की कतार पैदा हो गयी है

 उसमे से कितने चूतिया असली है कितने नकली यह तो मै भी सही से  नहीं जनता हु 

खैर जब मैंने अपने में असली दोस्ती की गिनती करनी चाहिए तो मेरा माथा ठनक गया . साला ये लफड़ा क्या है चुतियो की सख्या दिन व दिन बढ रही है जिस पर मुझे शक था सभी बाय बाय कर दिया .

इसलिए जरा जान पहचान वालो को अपनी फेसबुक में जोड़े और चुतियो को लिस्ट से आउट करे नहीं तो  फर्जी मित्र आपका भेद जान सकता है जिसका वह कभी भी फायदा ले सकता है 

सुशील गंगवार 
मीडिया दलाल .कॉम 
फेसबुक पर फर्जी दोस्ती का बाजार गर्म फेसबुक पर फर्जी दोस्ती का बाजार गर्म Reviewed by Sushil Gangwar on January 27, 2012 Rating: 5

No comments

Post AD

home ads