Top Ad 728x90

  • Sakshatkar.com - Sakshatkar.org तक अगर Film TV or Media की कोई सूचना, जानकारी पहुंचाना चाहते हैं तो आपका स्वागत है. आप मेल के जरिए कोई जानकारी भेजने के लिए mediapr75@gmail.com का सहारा ले सकते हैं.

Friday, 6 January 2012

संदीप बामजई, बने ‘मेल टुडे’ के संपादक



sandeep-b.gif
 Sabhar : समाचार4मीडिया.कॉम ब्यूरो 
संदीप बामजई, ‘मेल टुडे’ के नए संपादक बने हैं। बामजई ने 2 जनवरी, 2012 से अपना कार्यभार संभाल लिया। वे भारत भूषण के स्थान पर आए हैं जिन्होंने दिसंबर, 2011 में साढ़े चार साल के अपने कार्यकाल के बाद इस्तीफा दे दिया था ‘इंडिया टुडे’ समूह के सीईओ, आशीष बग्गा ने हमसे इस बात की पुष्टि की।
 
‘मेल टुडे’ ज्वाइन करने से पहले, बामजई ‘इंडिया टुडे’ समूह के अंग्रेजी न्यूज़ चैनल, ‘हेडलाइंस टुडे’ में सीनियर एडिटर के तौर पर कार्यरत थे। पिछले साल, दिसंबर, 2011 में मनोज शर्मा, राहुल थापा के स्थान पर ‘मेल टुडे’ के सीओओ बने तभी से इस बात की संभावना व्यक्त की जा रही थी।
 
बामजई ने कहा कि हम ऐसे समय में रह रहे हैं जहां सूचनाओं का अंबार लगा हुआ है। न्यूज़ के बारे में बामजई ने कहा, “दुर्भाग्य से समाचारपत्र चार लेटर का शब्द बन गया है। आप न्यूज़ को कैसे प्रजेन्ट करते हैं, यह इस बात पर निर्भर करता है।” उन्होंने आगे कहा, “उपभोग का पैटर्न बदल गया है। मेरा कहने का अर्थ है कि मीडिया के उपभोग। आज आपको ग्राफिक्स की विजुअल की जरूरत है। आपको दूसरों से हटकर कुछ करने की जरूरत है।”
 
बामजई के अनुसार, ‘मेल टुडे’ एक टैब्लॉयड है और इसका एक अलग ही लाभ है। टैब्लॉयड से आपको काफी स्वतंत्रता मिलती है। उन्होंने आगे कहा, “मेल टुडे एक संपूर्ण समाचारपत्र है और मैं इसे और आगे ले जाने की कोशिश करुंगा। जल्द ही मेल टुडे में कई परिवर्तन देखने को मिलेगा।”
 
बामजई ने ज्यादातर बिजनेस पत्रकार के तौर पर कार्य किया है और उन्होंने मुंबई, दिल्ली और कोलकता में बड़े प्रकाशन घरों में सीनियर एडिटोरिल (वरिष्ठ संपादकीय) के तौर पर कार्य किया है।
 
वे ‘हिन्दुस्तान टाइम्स’ में बिजनेस संपादक रह चुके हैं और मुंबई से नईदिल्ली आने से पहले वे ‘बिजनेस इंडिया’ में सीनियर एडिटर, ‘दलाल स्ट्रीट जर्नल’, ‘इलस्ट्रेटेड वीकली’ में असिस्टेंट संपादक, ‘संडे ऑब्जर्बर’ में डिप्टी एडिटर और ‘द टाइम्स ऑफ इंडिया’ समूह के स्पेशल प्रोजेक्ट्स में एडिटर के तौर पर कार्यरत थे। वे ‘प्लस चैनल’ में एक्जीक्यूटिव एडिटर के तौर पर भी कार्य कर चुके हैं।
 
बामजई ने अपने कॅरियर की शुरुआत कोलकता में ‘द स्टेट्समेन’ के साथ किया था। 1986 में वे ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ में ज्वाइन करने के लिए मुंबई चले गए और 15 वर्षों से अधिक समय तक मुंबई में रहे।
 

0 comments:

Post a Comment

Top Ad 728x90