गोरखपुर में राष्‍ट्रीय सहारा के पत्रकार पर हमला :


गोरखपुर के पीपगंज थाना क्षेत्र के बनकटवां गांव निवासी राष्ट्रीय सहारा के पत्रकार व हियुवा नेता अमित सिंह उर्फ मोनू पर खाद माफ़िया के एक गोल ने जानलेवा हमला कर दिया। पत्रकार की नेतागिरी ही उस पर भारी पड़ गयी। अमित सिंह अखबार के बैनर के सहारे नेतागिरी करता है। वह गोरखपुर के सांसद व गोरखधाम मन्दिर के उतराधिकरी योगी आदित्य नाथ के हियुवा टीम का सक्रिय कार्यकर्ता है। पत्रकारिता के सहारे वह अपने इलाके में दबंगई भी दिखाता है। वह ठेकेदारी का भी काम करता है।
घटना के बारे में बताया जा रहा है कि सोमवार को खाद माफियाओं ने साधन सहकारी समिति मखनहां से सैकड़ों बोरी खाद गायब कर दी। किसानों की शिकायत पर इस प्रकरण का समाचार मंगलवार को प्रकाशित हुआ। समाचार के आधार पर मंगलवार को एआर जमुना प्रसाद पांडेय मामले की जांच करने जिला सहकारी बैंक पीपीगंज पहुंचे। जंगल कौड़िया ब्लाक के एडीओ कापरेटिव देवेंद्र सिंह और स्थानीय समितियों के सचिव से उन्होंने जांच पड़ताल शुरू कर दी। जांच से बौखलाए माफियाओं ने फोन करके राष्ट्रीय सहारा के पत्रकार व हियुवा नेता अमित सिंह उर्फ मोनू को बुलाया। जिस समय उसे बुलाया गया उस समय उसे दफ़्तर में होना चाहिये, लेकिन उसका मनमौजीपन और नेतागिरी उसे वहां खींच ले गयी।
अमित सिंह उर्फ मोनू के पहुंचते ही खाद माफियाओं ने उस पर हमला बोल दिया। एआर ने तुरंत ही मारपीट की सूचना पुलिस को दी। लेकिन दो घंटे तक कोई मौके पर नहीं पहुंचा। थोड़ी ही देर में घटना की सूचना क्षेत्र में फैल गई। पत्रकारों के कई संगठन गोरखपुर में हैं, लेकिन मौके पर किसी संगठन का पदाधिकारी नहीं पहुंचा, अलबत्‍ता हियुवा के प्रदेश अध्यक्ष सुनील सिंह समेत सैकड़ों कार्यकर्ता कस्‍बे में जुट गए। लोगों ने घटना के विरोध में हियुवा के साथ मिल कर गोरखपुर-सोनौली मार्ग पर जाम लगा दिया। हाइवे जाम होने पर सैकड़ों गाडियां रास्ते में फ़ंस गईं। पूर्व ब्लाक प्रमुख बृजेश यादव, जिला संयोजक रमाकांत निषाद, विजय शंकर यादव समेत अन्य लोगों ने घटना की निंदा करते हुए कड़ी कार्रवाई की मांग उठाई। 
बाद में मौके पर पहुंची पुलिस ने पत्रकार की तहरीर पर गांव हरपुर टोला बनकटवा निवासी शिवनारायण सिंह उर्फ मुन्ना, सुशील सिंह, सुनील सिंह तथा प्रेम नारायण सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। पुलिस ने सुशील सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। राष्ट्रीय सहारा के पत्रकार व हियुवा नेता अमित सिंह उर्फ मोनू पर हमला करनेवाले उसी के गांव के हैं और समझौता के प्रलोभन पर बुला कर हमला कर दिये। उधर, आरोपी शिवनारायण सिंह उर्फ मुन्ना, सुशील सिंह, सुनील सिंह तथा प्रेम नारायण सिंह का कहना है कि अमित सिंह समाचार लिख कर धनउगाही करता है। इस मामले में भी पैसा मांग रहा था। मारपीट दोनों ओर से हुयी, लेकिन हियुवा के प्रदेश अध्यक्ष सुनील सिंह समेत सैकड़ों कार्यकर्ताओं के दबाव में पुलिस ने एकतरफा कार्रवाई की
Sabhar:- Bhadas4media.com
गोरखपुर में राष्‍ट्रीय सहारा के पत्रकार पर हमला : गोरखपुर में राष्‍ट्रीय सहारा के पत्रकार पर हमला   : Reviewed by Sushil Gangwar on December 27, 2011 Rating: 5

No comments