पंचकूला में तेंदुए को पकड़ने के बाद जब पुलिस मीडिया वालों पर टूट पड़ी



-जयश्री राठौड़


पंचकूला (हरियाणा) में पिछले दिनों पुलिस ने प्रेस फोटोग्राफरों और पत्रकारों को दौड़ा दौ़ड़ा कर पीटने, कैमरे तोड़ देने, न मानने पर सरकारी जीप चढ़ाने की घटना की हरियाणा यूनियन आफ जर्नलिस्ट्स ने कड़ी निंदा की है। यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष संजय राठी ने कहा है कि कवरेज करने गए फोटोग्राफरों और पत्रकारों पर पुलिस की ऐसी किसी कार्रवाई को हरगिज सहन नहीं किया जाएगा। 

प्रदेश में पहले भी ऐसी कई घटनाएं हुई हैं, हर बार भरोसा दिया गया कि भविष्य में ऐसा नहीं होगा। बावजूद इसके फिर ऐसी ही घटना को पुलिस ने अंजाम दिया है। नेशनल यूनियन आफ जर्नलिस्ट्स के राष्ट्रीय सचिव राठी ने कहा कि हालांकि पंचकूला के एसीपी मनीष चौधरी ने मामले में कार्रवाई की है लेकिन यह नाकाफी नहीं है। उन्हें यह बात यकीनी बनानी होगी कि भविष्य में पुलिसकर्मी मीडिया पर हमला करने से पहले कई बार सोचे। उन्होंने प्रदेश के सभी मीडियाकर्मियो को नववर्ष की शुभकामनाएं देते हुए उन्हें जनपक्षीय और सामाजिक सरोकारों से जुड़ी पत्रकारिता करने का आह्वान किया। 

कहा कि नववर्ष में मीडियाकर्मी आपसी गुटबाजी से उठकर एकजुटता का संकल्प लें ताकि स्वस्थ समाज के निर्माण में उनकी अहम भूमिका साबित हो सके। उन्होंने कहा कि नवोदित पत्रकारों केप्रशिक्षण को प्राथमिकता दी जाएगी ताकि वे रिपोर्टिंग के दौरान अप्रिय घटनाओं से बच सके। राठी ने कहा कि मीडियाकर्मियों पर बढ़ते हमलों के मद्देनजर हरियाणा में जल्द ही जर्नलिस्ट प्रोटेक्शन एक्ट किए जाने की जरूरत है। 

पंचकूला में तेंदुए को पकड़ने के बाद जब पुलिस मीडिया वालों पर टूट पड़ी पंचकूला में तेंदुए को पकड़ने के बाद जब पुलिस मीडिया वालों पर टूट पड़ी Reviewed by Sushil Gangwar on December 31, 2011 Rating: 5

No comments